English | डिपार्टमेंट लोगिन

कुन्देष्वर के बारे में

भारत वर्ष के मध्यप्रदेश राज्य के टीकमगढ़ जिले में, टीकमगढ़ से 5 किलोमीटर दूर दक्षिण में कुण्डेश्वर नामक ग्राम स्थित है । यह स्थान “कुण्डादेव महादेव” नामक एक प्राचीन मंदिर जो कि जमधार नदी के किनारे पर स्थित है के लिए जाना जाता है, और यह भगवान महादेव का स्थान है । प्राचीन ग्रन्थों के अनुसार, बाणपुर, बाणासुर जो कि राक्षसों का राजा एवं भगवान शिव महादेव का एक बड़ा भक्त था की राजधानी थी । उनकी पुत्री उषादेवी भी इस शिवलिंग की समर्पित एवं नियमित भक्त थी । उषादेवी का विवाह अनिरुद्ध से हुआ था जो कि भगवान श्री कृष्ण के पौत्र एवं प्रद्युम्न के पुत्र थे । ऐसा माना जाता है कि, यह शिवलिंग क्षत्रिय राजपूत कबीले की स्वामिनी के आधिपत्य वाले बागवार के कुण्ड से प्रकट हुआ है
दान
* तारांकित फील्ड अनिवार्य हैं!
दान का विवरण * परिसर / भवन फंडसामान्य दान
दानदाता का नाम* पिता / पति का नाम
दानदाता का पता राज्य
दान राशि* मोबाइल नंबर*
ईमेल आईडी टिप्पणी